पश्चिम बंगाल के विधायकों के वेतन में 40,000 रुपये की बढ़ोतरी; विवरण अंदर

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को एक बड़ा कदम उठाते हुए घोषणा की कि विधायकों का वेतन 40,000 रुपये प्रति माह बढ़ाया जाएगा। कैबिनेट बैठक में ये फैसला लिया गया.

सीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री के वेतन में कोई संशोधन नहीं होगा. जानकारी के मुताबिक वह काफी समय से कोई सैलरी नहीं ले रही हैं. कैबिनेट फैसले की जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में विधायकों का वेतन अन्य राज्यों के विधायकों की तुलना में कम है. इसलिए उनकी सैलरी में 40,000 रुपये प्रति माह की बढ़ोतरी का फैसला किया गया है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कैबिनेट मंत्रियों, राज्य मंत्रियों और विधायकों को वेतन के अलावा अन्य भत्ते मिलते रहेंगे. इस बढ़ोतरी से विधायकों को अब 10,000 रुपये की जगह 50,000 रुपये वेतन मिलेगा. वहीं, राज्य मंत्रियों का मासिक वेतन 10,900 रुपये से बढ़ाकर 50,900 रुपये कर दिया गया है. कैबिनेट मंत्रियों का वेतन 11,000 रुपये से बढ़कर 51,000 रुपये हो जाएगा.

सैलरी 1.21 लाख रुपये होगी

राज्य सरकार के एक अधिकारी ने कहा कि वेतन और भत्ते सहित विधायकों का वास्तविक वेतन अब 81,000 रुपये से बढ़कर 1.21 लाख रुपये हो जाएगा। इसी तरह अब से मंत्रियों का वेतन 1.10 लाख रुपये से बढ़कर करीब 1.50 लाख रुपये प्रति माह हो जाएगा. गौरतलब है कि राज्य सरकार के कर्मचारी महंगाई भत्ता (डीए) बढ़ाने की मांग को लेकर महीनों से प्रदर्शन कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: 11 साल की रेप पीड़िता का गर्भपात, जिंदा पैदा हुआ बच्चा

Leave a Comment