लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाने पर अड़ा विपक्ष!

मानसून सत्र: विपक्षी दलों गठबंधन I.N.D.I.A ने लोकसभा में भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला किया

मानसून सत्र: कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि विपक्षी दलों के गठबंधन I.N.D.I.A ने बुधवार को लोकसभा में भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का फैसला किया।

संसद के मानसून सत्र की शुरुआत के तुरंत बाद विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को लोकसभा और राज्यसभा में विरोध प्रदर्शन और नारेबाजी की, जिससे दोनों सदनों की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता चौधरी ने मीडिया से पुष्टि की, “विपक्षी दल कल सरकार के खिलाफ लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे।”

कांग्रेस और समान विचारधारा वाले दलों के नेताओं ने मंगलवार को एक बैठक आयोजित की और केंद्र सरकार के खिलाफ फिर से अविश्वास प्रस्ताव लाने के प्रस्तावों पर चर्चा की.

संसद के मानसून सत्र की कार्यवाही से पहले राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के कक्ष में विपक्षी नेताओं की एक बैठक आयोजित की गई।

बैठक में शामिल होने वाले नेता थे- राघव चंदा, प्रमोद तिवारी, जयराम रमेश, टीएमसी के डेरेक ओ’बिरेन और अन्य।

स्थगनों

मणिपुर की स्थिति पर चर्चा की मांग को लेकर दोनों सदनों को स्थगन का सामना करना पड़ा।

मालूम हो कि आखिरी बार 2003 में अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के खिलाफ अविश्वास लाया गया था.

सूत्रों ने कहा कि मणिपुर पर सरकार को घेरने की विपक्ष की रणनीति राज्यसभा में भी जारी रहेगी।

Leave a Comment