IND Vs SA: विश्व कप के बाद मोहम्मद शमी व्हाइट बॉल सीरीज से बाहर

विश्व कप 2023 के दौरान, मोहम्मद शमी मैदान पर अपना कौशल दिखाते हुए अग्रणी विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में उभरे।

आगामी दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए भारतीय टीम ने प्रशंसकों के बीच उत्सुकता और चिंता पैदा कर दी है क्योंकि हालिया विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करने वाले स्टार तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी वनडे और टी20 प्रारूपों से विशेष रूप से अनुपस्थित हैं। विश्व कप में शमी के अभूतपूर्व प्रदर्शन ने उन्हें वैश्विक प्रशंसा दिलाई, जिससे कई लोग सफेद गेंद वाली श्रृंखला से उनके बाहर होने से हैरान हो गए।

उनकी अनुपस्थिति को लेकर चल रही अटकलों पर बीसीसीआई के हालिया बयान से विराम लग गया। 33 वर्षीय तेज गेंदबाज वर्तमान में चिकित्सा उपचार से गुजर रहा है और समर्पित रूप से अपने फिटनेस स्तर को बढ़ाने पर काम कर रहा है। उन्हें सीमित ओवरों की श्रृंखला से बाहर रखने का निर्णय उनकी चल रही चिकित्सा देखभाल पर आधारित है। ऐसी उम्मीद है कि एक बार जब वह पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे तो शमी सफेद गेंद वाले क्रिकेट में तेजी से वापसी करेंगे।

हालाँकि शमी को सीमित ओवरों के प्रारूप के लिए जगह नहीं मिली है, लेकिन उन्हें दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट श्रृंखला के लिए भारतीय टीम में जगह मिल गई है। ऐसी आशा है कि टेस्ट मैचों में उनकी भागीदारी के लिए समय पर उनकी फिटनेस बहाल हो जाएगी।

और पढ़ें: विश्व कप में हार पर बीसीसीआई ने कोच, कप्तान से उठाए सवाल; राहुल द्रविड़ की प्रतिक्रिया से भौंहें तन गईं

आगामी भारत-दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला दो मैचों की टेस्ट श्रृंखला के साथ शुरू होने वाली है, जो 26 दिसंबर से शुरू होगी, जिसके बाद 3 जनवरी को दूसरा मैच होगा।

शमी का विश्व कप में शानदार प्रदर्शन:

विश्व कप 2023 के दौरान, मोहम्मद शमी मैदान पर अपना कौशल दिखाते हुए अग्रणी विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में उभरे। टूर्नामेंट में सात मैचों में, शमी ने प्रभावशाली ढंग से सात पारियों में 10.70 की औसत से कुल 24 विकेट हासिल किए। उनके असाधारण प्रदर्शन में चार विकेट लेने का कारनामा और पांच विकेट लेने के प्रभावशाली तीन उदाहरण शामिल थे, जिससे क्रिकेट की दुनिया में एक मजबूत ताकत के रूप में उनकी प्रतिष्ठा मजबूत हुई।

Leave a Comment